जमीन की रजिस्ट्री कैसे करवाये पूरी जानकारी | Plot Ki Registry Kaise Hoti Hai

जमीन, खेत, मकान के प्लॉट की रजिस्ट्री कैसे होती है – अगर आप भी कोई जमीन या मकान का प्लॉट लेने को सोच रहे है। लेकिन आपको यह पता नहीं है की जमीन की रजिस्ट्री क्या होती है। और हमारे को प्लॉट या जमीन की रजिस्ट्री क्यों करवाना जरूर है। जमीन की रजिस्ट्री की पूरी जानकारी के लिए आप इस लेख को अंत तक जरूर पढे। आज के इस लेख मे हम आपको जमीन की रजिस्ट्री की पूरी जानकारी जैसे – Plot Ki Registry Kaise Hoti Hai और खेत या मकान के प्लॉट की रजिस्ट्री करवाते समय हमारे को कौन-कौनसी बातों का ध्यान रखना चाहिए। रजिस्ट्री करवाने के लिए आपके पास कौनसे दस्तावेज का होना जरूरी है। प्रॉपर्टी रजिस्ट्रेशन की पूरी जानकारी के लिए हमारे साथ अंत तक बने रहे।

Plot Ki Registry Kaise Hoti Hai

Zameen Ki Registry Kaise Kraye ?

अगर आप भी किसी जमीन या मकान के प्लॉट को बेच रहे या खरीद रहे है। तो आपके पास उस जमीन या प्लॉट की रजिस्ट्री के दस्तावेज होना जरूरी है। अगर आप कोई जमीन या प्लॉट खरीद रहे है। और आप जमीन की रजिस्ट्री करवाने की प्रक्रिया मे थोड़ी भी लापरवाही करते है, तो आपको आगे बहुत ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए अगर आप कोई भी जमीन या प्लॉट खरीद रहे है। उसकी रजिस्ट्री होना जरूरी है। ताकि आपके साथ किसी भी तरह की कोई धोखाधड़ी न हो सके। आगे हम आपको विस्तार से बता रहे है। Plot Ki Registry Kaise Hoti Hai और जमीन की रजिस्ट्री के क्या नियम होते है।

जमीन या प्लॉट की रजिस्ट्री के नियम 2022 क्या है ?

पहले के समय मे जमीन की रजिस्ट्री नहीं होने से जमीन या प्रॉपर्टी खरीदने वाले लोगों के साथ धोखाधड़ी के मामले जैसे किसी बेची हुई जमीन को कही किसी अन्य लोगों को बेच देना आदि। इस तरह के होने वाले फर्जीवाड़े से लोगों को बचाने के लिए सरकार के द्वारा रजिस्ट्री के कुछ नियम बनाए गए है।

जैसे किसी भी जमीन के प्रमाणित नक्शे के बिना रजिस्ट्री नहीं करना। जमीन बेचने वाले व्यक्ति के सभी अंगुलियों के निशान लेना। सभी आवश्यक दस्तावेज के द्वारा जमीन की रजिस्ट्री की प्रक्रिया पूरी की जाती है। जमीन की रजिस्ट्री के नियम अलग-अलग राज्यों के अलग-अलग हो सकते है। जिनको जमीन खरीददार और जमीन का बेचान करने वाले दोनों को मानना जरूरी है।

जमीन या प्लॉट खरीदते समय रखी जाने वाली सावधानीयां

1.जमीन या प्लॉट के असली मालिक का पता करे – जब भी आप कोई जमीन या प्रॉपर्टी खरीद रहे है। उस समय आपको प्रॉपर्टी के असल मालिक का पता जरूर करना चाहिए। आप किसी प्रॉपर्टी डीलर के द्वारा जमीन खरीद रहे है, तो आप जमीन के असली कागजात को एक बार जरूर देखे। ताकि जमीन या प्लॉट खरीदने के बाद आपके साथ किसी तरह की कोई धोखाधड़ी न हो।

2. प्रॉपर्टी का भाव जरूर पता करे – आप जिस भी शहर या कॉलोनी मे प्रॉपर्टी खरीद रहे है। उस जगह की प्रॉपर्टी रेट जरूर पता करे। ताकि आपको कोई भी जमीन बेचने वाले प्रॉपर्टी डीलर या दलाल आपको कम कीमत की जमीन अधिक रेट मे न बेच सके। इससे आपके पैसा की बचत होगी और आप जितनी पैसा खर्च करेंगे। उस हिसाब से आपको सही जमीन मिल पायेंगी।

3. विज्ञापन से सावधान रहे – अखबार, टीवी और मोबाईल फोन पर चलने वाले विज्ञापनों से सावधान रहे। बहुत से लोग विज्ञापन के माध्यम से आपको सस्ती प्रॉपर्टी देने का वादा करते है। बैंक लोन की सुविधा और सबसे सस्ती रेट मे फ्लैट देने वाली बातों से हमेशा सावधान रहना चाहिए।

यह भी जरूर पढे :-

खेत, प्लॉट, मकान जमीन की रजिस्ट्री कैसे कराये ?

जमीन या प्लॉट की रजिस्ट्री करवाने की पूरी प्रोसेस हम स्टेप by स्टेप आपको बता रहे है। अगर आप भी अपने मकान के प्लॉट या खेत की जमीन की रजिस्ट्री करवाने को सोच रहे है, तो आप Property Registry कराने की आगे की पूरी प्रक्रिया को आप ध्यानपूर्वक जरूर पढे।

स्टेप-1. प्रॉपर्टी या जमीन का सरकारी रेट पता करे

सबसे पहले आप जी भी जमीन को खरीद रहे है। उस जमीन की वैल्यू यानि मार्केट के हिसाब सरकारी रेट पता करे। जमीन की सरकारी रेट आप राजस्व विभाग की आधिकारिक वेबसाईट पर ऑनलाइन भी पता कर सकते है। क्योंकि प्रॉपर्टी या जमीन की सरकारी रेट के अनुसार ही स्टाम्प ड्यूटी लगती है। जमीन की सरकारी रेट और स्टाम्प ड्यूटी का रजिस्ट्री करवाने से पहले आपको पता होने से आप पैसों की व्यवस्था पहले से कर सकते है।

स्टेप-2. स्टाम्प ड्यूटी पेपर खरीदे

प्लॉट या जमीन की मार्केट वैल्यू यानि सरकारी रेट पता करने के बाद आपको स्टाम्प ड्यूटी के पेपर को खरीदना है। स्टाम्प ड्यूटी के पेपर आप कोर्ट से या फिर अपने आस-पास की किसी स्टाम्प विक्रेता की दुकान से खरीद सकते है। आपको यहाँ पे ध्यान रखना है। स्टाम्प ड्यूटी आपकी जमीन की वर्तमान मे जमीन की सरकारी रेट के हिसाब से बनेगी। जैसे आपने कोई जमीन खरीदी है। उस जमीन की एरिया के हिसाब से वैल्यू 21 लाख रुपये है। लेकिन उस जमीन की सरकारी रेट 19 लाख रुपये है। तो आपको 19 लाख रुपये के हिसाब से उस जमीन की स्टाम्प ड्यूटी लगेगा।

स्टेप-3. जमीन या प्लॉट को खरीदने और बेचने के पेपर बनवाए

स्टाम्प ड्यूटी के पेपर खरीदने के बाद आपको जमी की रजिस्ट्री के पेपर तैयार करवाना है। आपको अपने रजिस्ट्री ऑफिस मे जाना है। वहाँ आपको वकील या रजिस्ट्रार मिल जाएगा। जमीन बेचने वाले और खरीदने वाले दोनों को आवश्यक दस्तावेज देना होगा। आपको निर्धारित फीस का भुगतान भी करना पड़ेगा। इन सभी दस्तावेज के आधार पर ही जमीन की रजिस्ट्री तैयार की जाएगी। आपको स्टाम्प पेपर खरीदना है। स्टाम्प पेपर आप स्टाम्प विक्रेता या ऑनलाइन भी खरीद सकते है।

किसी भी जमीन का सरकारी रेट पता करने के लिए – यहाँ क्लिक करे

स्टेप-4. अब अपने रजिस्ट्रार के पास जाए

यह सभी कार्य करने के बाद आपको इन तैयार सभी डॉक्युमेंट्स को लेकर अपने रजिस्ट्रार के पास दोनों व्यक्ति यानि जो व्यक्ति जमीन बेच रहा है। और जो व्यक्ति जमीन को खरीद रहा है, दोनों को जाना होगा। कोई दो गवाह की आवश्यकता होगी। गवाह के पास पहचान पत्र और आधार कार्ड होना जरूरी है। सभी डॉक्युमेंट्स को जमा करवाने के बाद आपको एक रसीद मिलेगी। आपको इस रसीद को अपने पास सुरक्षित रखना है।

स्टेप-5. जमीन की रजिस्ट्री लेने जाए

अब आपके सभी दस्तावेज को राजस्व विभाग के द्वारा वेरीफाई किया जाएगा। डॉक्युमेंट्स वेरीफिकेशन की प्रक्रिया पूरी होने के बाद जमीन की रजिस्ट्री बनने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। अब आप जमीन या प्रॉपर्टी के स्थाई रूप से हकदार बन जाएंगे। आपको रजिस्ट्रार ऑफिस मे जाने के बाद रशीद को दिखने के बाद जमीन की रजिस्ट्री को प्राप्त कर सकते है।

Plot Ki Registry Kaise Hoti Hai से संबंधित प्रश्न-उत्तर ( FAQ )

जमीन की रजिस्ट्री करवाने मे कितना खर्च आता है?

जमीन की रजिस्ट्री करवाने का खर्च जमीन की सरकारी रेट पर निर्भर करता है। आपकी जमीन की जितनी सरकारी रेट है। उसके हिसाब से स्टाम्प ड्यूटी लगती है।

जमीन की रजिस्ट्री करवाने मे कौन-कौनसे दस्तावेज लगते है?

किसी भी जमीन या प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री करवाने के लिए जमीन विक्रेता के फोटोग्राफ और आईडी और जमीन खरीदने वाले के फोटोग्राफ और आईडी के साथ ही दो गवाहों के फोटोग्राफ और आईडीआदि लगेगी।

जमीन का सर्किल रेट कैसे पता करे?

जमीन का सर्किल रेट आप ऑनलाइन या फिर किसी वकील या रजिस्ट्रार की मदद से पता कर सकते है।

क्या जमीन की रजिस्ट्री ऑनलाइन चेक की जा सकती है?

जी हाँ कुछ राज्यों की जमीन की रजिस्ट्री ऑनलाइन चेक की जा सकती है।

अगर दोस्तों आपको Zameen Ki Registry Kaise Kraye की जानकारी पसंद आई हो तो इस जानकारी को अपने मित्रों के साथ शेयर करने मे हमारी मदद जरूर करे। जमीन या प्लॉट की रजिस्ट्री कराने को लेकर आपके किसी भी तरह के कोई सवाल-जवाब है तो आप हमारे को कमेन्ट करके पूछ सकते है। हमारी टीम आपके सवाल का जल्द ही जवाब देने का प्रयास करेगी।

Share Now

3 thoughts on “जमीन की रजिस्ट्री कैसे करवाये पूरी जानकारी | Plot Ki Registry Kaise Hoti Hai”

Leave a Comment